प्रगतिशील ब्लॉग लेखक संघ. Blogger द्वारा संचालित.
प्रगतिशील ब्लॉग लेखक संघ एक अंतर्राष्ट्रीय मंच है जहां आपके प्रगतिशील विचारों को सामूहिक जनचेतना से सीधे जोड़ने हेतु हम पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं !

ब्लागिंग पर रवीन्द्र प्रभात की अनुपम पहल ....

सोमवार, 10 अक्तूबर 2011


इतिहास का मतलब दिक्कालीय परिवेश और घटनाओं के दस्तावेजीकरण का है और इसके लिए इंतज़ार किया जाना प्रमाणिकता को बनाए रखने के लिहाज से जरुरी नहीं है। इतिहास द्रष्टा द्वारा सीधे खुद लिखने के बजाय जब भी कालान्तर में लोगों द्वारा बिखरे हुए साक्ष्यों और तथ्यों के आधार पर इतिहास लिखा जाता है प्रमाणिकता के साथ समझौता करना पड़ता है।
सृजनगाथा में रवीन्द्र प्रभात की ताजातरीन पुस्तक हिंदी ब्लोगिंग का इतिहास पर  डा. अरविन्द मिश्र की सारगर्भित समीक्षा पढ़ने के लिए यहाँ किलिक करें :

ब्लागिंग पर रवीन्द्र प्रभात की अनुपम पहल .... New Window 

1 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) 10 अक्तूबर 2011 को 9:37 pm  

आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की गई है! आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

एक टिप्पणी भेजें

About This Blog

भारतीय ब्लॉग्स का संपूर्ण मंच

join india

Blog Mandli

  © Blogger template The Professional Template II by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP